CA Kaise Bane – चार्टरड अकाउंटेंट कैसे बने हिन्दी ?

chartered accountant hindi

यदि आपका सपना CA बनना है तो आप बिल्कुल सही Blog पर आए है | मै इस ब्लॉग में चार्टर एकाउंटेंट यानि CA से जुड़े हर Topic का उल्लेख करूंगा | हम जानेंगे की CA Kaise Bane | इसके लिए क्या पढ़ाई करनी पड़ती है | इसकी तैयारी कैसे करें ? इन सभी चीजों के बड़े में जानेंगे |

दोस्तों 10वीं पास होने के बाद हर कोई अपना लक्ष्य बनाता है । कोई डॉक्टर बनना चाहता है तो कोई इंजीनियर बनना चाहता है। चार्टर अकाउंटेंट भी भारत में बहुत प्रतिष्ठित करियर है। शॉर्ट फॉर्म में इसे CA कहा जाता है।

आम तौर पर कॉमर्स स्टूडेंट यह कोर्स करते हैं। लेकिन यह जरूरी नहीं है कि सिर्फ कॉमर्स स्टूडेंट ही ऐसा कर सकते हैं, यहां तक कि मैथ, आर्ट्स स्टूडेंट भी इस कोर्स के लिए योग्य हैं। भारत में चार्टर अकाउंटेंट का संचालन ICAI (इंडियन चार्टर्ड अकाउंटेंट इंस्टीट्यूट) द्वारा किया जाता है।

CA क्या है? CA किसे कहते है Hindi 

CA का मतलब होता है Chartered Accountant | हम सब यह जानते है की एक CA का प्रमुख काम Taxation, Audit, Accounting करना होता है | पर एक CA को इससे भी ज्यादा काम करना पड़ता है जैसे Cost Accounting, Secretarial Work, Management Accountancy, Management Consultancy, Directorship |

दूसरी भाषा मे हम यह कह सकते है की एक CA का काम होता है किसी भी कंपनी के Financial Account को Manage करना और Financial Advice देना |

इसे भी पढ़ें :- BBA Kaise Kare

इसे भी पढ़ें :- MBA Kya Hai

CA Kaise Bane

CA Ke Liye Eligibility

  • CA बनने के लिए आपको Minimum 10th पास होना अनीवार्य होता है | 10th पास करने के बाद आप CPT या CA Foundation के लिए Registration करवा सकते है | परंतु आप परीक्षा 12वीं पास करने के बाद ही दे सकते है |

CA Kaise Bane

1854 में ब्रिटेन ने यह कोर्स शुरू किया था। इस कोर्स को पूरा करने में कम से कम 5 साल का समय लगता है। ICAI द्वारा इस कोर्स को 3 भागों में बांटा गया है।

  • CPT
  • IPCC
  • Final

 

CPT Or CA Foundation

CPT का मतलब होता है Common Proficiency Test जिसे अब CA Foundation कहा जाता है | आप जैसे ही 10th पास कर लेते है आप ICAI मे CA Foundation के लिए Registration करवा सकते है |

यह Exam साल में 2 बार लिया जाता है | एक बार जून मे और दूसरी बार दिसम्बर में लिया जाता है |

Syllabus Of CA Foundation

Section A: Fundamentals Of Accounting (60 Marks)

Section B: Mercantile Laws (40 Marks)

Section C: General Economics (50 Marks)

Section D: Quantitative Aptitude (50 Marks)

Section A और B एक Session में लिया जाता है जो पूरे 2 घंटे का होता है | Section C और D परीक्षा दूसरे Session में लिया जाता है जो 2 घंटे का ही होता है |

IPCC Or CA Intermediate

जब आप CPT Or CA Foundation Exam पास कर लेते है तब आपको IPCC Or CA Intermediate के लिए Registration कर सकते है | यह परीक्षा साल मे 2 बार ( मई और नवंबर ) ली जाती है |

CA Intermediate की Registration करने के बाद आपको 4 Week की Information Technology And Soft Skills और Orientation Course पूरा करना होता है | इस सभी कोर्स को पूरा करने के बाद आपको CA Intermediate का Exam देना होता है | जिसका Syllabus यह रहा |

Syllabus IPCC Or CA Intermediate

Group 1:

  • Accounting
  • Business Laws Ethics And Communication
  • Cost Accounting And Financial Management
  • Taxation

Group 2:

  • Advance Accounting
  • Auditing And Assurance
  • Information Technology And Strategic Management
  • Financial Management & Economics For Finance

इन सभी पेपर्स में 40% Passing Marks होनी चाहिए और कुल 50% अंक होने चाहिए। तभी आप इस Exam को Qualify कर पाएंगे |

Final

जब आप IPCC Or Intermediate परीक्षा पास कर लेते है और 3 साल की Articleship पूरा कर लेते है | उसके बाद आपको CA Final के लिए रेजिस्ट्रैशन करवा होता है | यह परीक्षा आपको Articleship पूरा करने के 6 महीने के अंदर देना होता है |

Syllabus Of CA Final

  • Financial Reporting
  • Strategic Financial Management
  • Advanced Auditing And Professional Ethics
  • Corporate And Allied Laws
  • Advanced Management Accounting
  • Information Systems Control And Audit
  • Direct Tax Laws
  • Indirect Tax Laws

इस परीक्षा में कुल 8 paper होते है | जिसमे आपको 40% अंक होने चाहिए |

CA कोर्स फीस हिन्दी 

जैसा की मैंने ऊपर कहा की CA का Exam 3 भागों मे ली जाती है | इसलिए आपको तीनों परीक्षाओं का Registration अलग से करवाना पड़ेगा | जिसमे आपको इस तरह से पैसे देने पर सकता है :-

CA Foundation :- Rs 9800

CA Intermediate :- Rs 27200

CA Final :- Rs 32200

इंडिया में CA की सैलरी कितनी होती है?

हमारे देश में एक फ्रेश CA की Average सैलरी 6 से 7  लाख रुपए प्रति वर्ष होता है | यह आगे जाकर 30 से 40 लाख प्रति वर्ष होता है | जैसे-जैसे आपका अनुभव या Experience बढ़ता है आपके सैलरी में वृद्धि होता है |

एक CA किसी कंपनी के Financial Advisior से लेकर MD (Managing Director) तक बन सकता है | तो ऐसे में आप अंदाज लगा सकते है की एक CA कितना कमा सकता है |

CA करने के बाद क्या करें ? Career In CA

किसी भी कोर्स को खत्म करने के बाद स्टूडेंट के पास तो विकल्प होते है | पहला नौकारी का और दूसरा बिजनेस | इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप समझ गए होंगे की CA कितना Reputed कोर्स है | इसे करने के बाद आप इस तरह से अपना Career बना सकते है |

  • आप किसी कंपनी में Accountant के रूप में कम कर सकते है |
  • किसी कंपनी Internal Auditor बन सकते है |
  • खुद का Start Up शुरू कर सकते है |
  • Goverment Advisor बन सकते है |
  • GST सर्विस Provider बन सकते है |

Conclusion

दोस्तों हमारे देश में CA बनना इतना आसान तो नहीं है | क्योंकि यह कोई डिग्री नहीं है की आप किसी कॉलेज में Admission ले और पास कर लें | लेकीन यदि आपका Mindset CA के प्रति साफ है तो आपको CA बनने से कोई रोक नहीं सकता है |

दोस्तों यदि आपको हमारा यह ब्लॉग CA Kaise Bane अच्छा लगा हो तो इसे Share जरूर करें |

धन्यवाद !

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here