Seo Kya Hai – SEO क्या है हिन्दी | SEO कैसे करें ?

SEO Kya Hai

आज के समय में हर कोई अपना बिजनेस Online करना चाहता है। लगातार इंटरनेट Users के बढ़ने के कारण यह दिन प्रतिदिन और बढ़ रहा है |  कुछ समाचार एजेंसियों के अनुसार भारत में इंटरनेट उपयोगकर्ता 2021 तक 700 Million होने वाला  है और यह आगे और बढ़ने वाला है |

हर बड़ी कंपनी और नए स्टार्ट-अप कंपनी की अपनी वेबसाइट होती है | कंपनी के बारे में सारी जानकारी उनकी वेबसाइट पर उपलब्ध होती है। लेकिन सवाल यह है कि आप उस वेबसाइट के बारे में कैसे जानते हैं |

मान लीजिए कि आप गूगल मे Search करते है “मुंबई में सर्वश्रेष्ठ डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी”  तो आप पहले Page के पहले 1 से 5 विकल्प के साथ जाते है | आप दूसरे पेज के Website पर नहीं जाते | इसलिए हर कोई अपनी वेबसाईट को पहले पेज पर लाना चाहता है | किसी भी वेबसाईट को पहले पेज पे लाने के लिए आपको उन वेबसाईट का SEO करना होता है | तो आईए हम जानते है की Seo Kya Hai और Seo कैसे करते है |

Seo Kya Hai

 

SEO का मतलब Search Engine Optimisation होता है । यह एक डिजिटल मार्केटिंग Tool होता है जिसके इस्तेमाल से हम अपने वेबसाईट को किसी भी Search Engine के पहले पेज पर रैंक करवा सकते है | दूसरे शब्द में हम यह भी कह सकते हैं कि यह हमारे वेबसाईट पर Organic ट्राफिक लाने मे मदद करता है ।

लेकिन सवाल यह है कि वेबसाइट को कैसे रैंक मे लाया जाए ? यह जानने से पहले हमें यह समझने की जरूरत है कि Search Engine कैसे काम करता है।  Google सर्च इंजन एक एल्गोरिदम नामक कंप्यूटर प्रोग्राम का उपयोग करता है। लेकिन कोई नहीं जानता कि Google एल्गोरिदम कैसे काम करते हैं ।

अगर किसी को गूगल एल्गोरिदम वर्किंग प्रोसेस पता चल जाए , तो वे गूगल को हैक कर सकते हैं। लेकिन हम जानते हैं कि Google को हैक करना असंभव है। लेकीन हमारे पास उनकी प्रक्रिया को समझने के लिए कुछ सुराग हैं ।

अर्थात गूगल फ्रेश कंटेंट और यूनिक कंटेंट को अच्छा Position देता है । सभी Search Engine अपने Users को सबसे अच्छा और उपयोगी परिणाम दिखाना चाहता है, और यही उनका लक्ष्य होता है । Google वेबसाईट पर नई चीजों को खोजने के लिए कई तरीकों का उपयोग करता है | जैसे Crawling, INDEXING और RANKING है |

 इसे भी पढ़ें :- Blogging Kya Hai

Types Of SEO In Hindi

SEO मुख्य दो प्रकार के होते है | जैसे :-

  1. ON Page SEO
  2. OFF Page SEO

seo kya hai

ON Page SEO Kya Hai

SEO किसी भी वेबसाइट के रैंकिंग के सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा होता है | On Page SEO हम वेबसाईट के भीतर करते है | इसमे Meta Tag, Page Title, Internal Linking, Meta Description, Domain, होस्टिंग इत्यादि पर काम करना परता है |

  1. Title Tag

यह आपकी वेबसाइट की हेडलाइन है जो सर्च इंजन में दिखाती है। सबसे Important बात हमे यह ध्यान में रखना पड़ता है की Title Tag में वेबसाइट से संबंधित Keyword  का उपयोग करें | यह अच्छा रैंक प्राप्त करने में मदद करता है |अपने Title Tag मे 65 से ज्यादा शब्दों का उपयोग न करे |

  1. URL

यह आपकी वेबसाइट का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है और दूसरे शब्द में हम कह सकते हैं कि यह आपकी वेबसाइट की पहचान है। ध्यान रखने के लिए सबसे महत्वपूर्ण बातें अपने URL में Symbol और Number का उपयोग न करे |

URL में 5 से ज्यादा शब्द और 90 से ज्यादा Character को  शामिल नहीं करें | कुछ रिपोर्टों के अनुसार छोटा URL बेहतर काम करते हैं।

  1. Domain

डोमेन नाम चुनने से पहले आपको अपनी टार्गेट ऑडियंस के बारे में पता होना चाहिए | यदि आपके दर्शक भारत के भीतर का हैं तो आपको .In डोमेन लेना चाहिए | इसी तरह यदि आप पूरी दुनिया के ऑडियंस पर फोकस करते हैं तो .Com आपके लिए है |

  1. Meta Description

यह On Page SEO का बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा होता है क्योंकि यह दिखाता है कि आप अपने Target Audience को अपने Website पर क्या दिखाना चाहते हैं। Meta Description मे आपको अपने आर्टिकल से संबंधित Keyword जोड़ना होता है |

Keyword चयन के दौरान कुछ महत्वपूर्ण बातें ध्यान में रखना पड़ता हैं | जैसे Keyword एक Sentence मे हो तो अच्छा होता है नाकी की Single Keyword, लंबाई 10 शब्दों से ज्यादा नहीं होनी चाहिए,  Keyword के बीच में अल्पविराम का उपयोग न करें। हमेशा अपने Blog से Related Keyword का इस्तेमाल करें |

Keyword पता लगाने के लिए आपको कुछ Analytic Tool जैसे Google Keyword Planner , Semrush, Ubersuggest  इत्यादि जैसे Analytic Tool का जानकारी होनी चाहिए |

  1. Content

हम सब जानते हैं कि Content को किसी भी ब्लॉग या वेबसाईट का King कहा जाता है | Google हमेशा फ्रेश और यूनीक कंटेन्ट को ही अच्छा रैंक देता है । इसीलिए आपको अपने ब्लॉग में सभी उत्तरों का उल्लेख करना चाहिए जो भी User द्वारा पूछा जाए ।

Google Algorithm Long पेज आर्टिकल को अच्छा रैंक देता है | इसलिए आप का आर्टिकल या ब्लॉग कम से कम 1000 से 2000 शब्दों मे होना चाहिए | आपके ब्लॉग में लगभग 15% Keyword का उल्लेख किया जाना चाहिए |

  1. ALT Image Tag

यह एक Alternative Description होता है | जिससे हमे यह पता चलता है की आपका फोटो किसके बारे मे है |  यदि आपने अपने Blog मे फोटो का इस्तेमाल किया है और आपने उसमे Alt Tag लगाया है, तो वो टैग उस फोटो के Background मे Show करेगा |

इसके अलावा कुछ अन्य चीजें भी हैं जो वास्तव में महत्वपूर्ण हैं । वे अनुसरण कर रहे हैं:-

  1. Meta Robot Or Meta Tag

यह गूगल और अन्य सर्च इंजन को बताता है कि आपके वेब पेजों में जो कंटेन्ट उपलब्ध है उसको कैसे Index करना है | इसलिए आपके कंटेन्ट का Unique होना जरूरी है |

  1. Site Speed

साइट की गति 3 सेकंड से कम होनी चाहिए | वो इसलिए क्योंकि यदि आपके वेबसाईट खुलने में ज्यादा समय लेगा तो User आपके वेबसाईट को नहीं Use करेंगे |

  1. Mobile Friendly

हम सभी जानते हैं कि अधिकांश उपयोगकर्ता अपने मोबाइल से ही किसी वेबसाईट तक पहुंचते हैं | इसलिए आपके वेबसाईट का Mobile Friendly होना जरूरी है | आपके वेबसाईट के Theme भी Mobile फ़्रेंडली होना चाहिए |

आपका वेबसाईट मोबाईल फ़्रेंडली है की नहीं, इसके लिय आपको Google Mobile Friendly Test का उपयोग करना चाहिए |

Off Page SEO Kya Hai

अब आपने अपनी वेबसाइट पर URL सेट अप, मेटा टाइटल, मेटा डिस्क्रिप्शन, हेडिंग टैग, फ्रेश कंटेंट जैसी सभी चीजों को सेट कर ली  हैं। लेकिन सवाल यह है कि हम अपनी साइट पर Traffic कैसे लाएं ? इसे हल करने के लिए हमें Off Page SEO करने की आवश्यकता है।

Off Page SEO करने के लिए आपको लिंक बिल्डिंग, सोशल बुकमार्किंग जैसी विभिन्न तकनीक का इस्तेमाल करना होगा | इन्ही तकनीक के मदद से आप अपने वेबसाईट और ब्लॉग को विभिन्न तरीके से लिंक कर सकते है |

उदाहरण:- यदि आप Tour & Travel से संबंधित ब्लॉग पर कमेन्ट कर के उसमे अपने ब्लॉग का लिंक देते है | जब कोई व्यक्ति आपके लिंक पर क्लिक करता है | तो वो आपके वेबसाईट पर जाता है और आपको एक Backlink मिलेगा जो आपको अपनी वेबसाइट पर ट्रैफ़िक उत्पन्न करने में मदद करेगा |

आप इन सभी Category के वेबसाईट पर लिंक देके Traffic ले सकते है:-

  • Social Bookmarking Site : Facebook, Reddit, Slashdot, Twitter|
  • Forum Comment : Letsdiskuss, Quora, Bbpress, क्रॉनिकल |
  • Blog Comment : अपनी संबंधित कीवर्ड साइट के साथ गूगल पर खोजें |
  • Directory Submission : Alfreethings, Freewebdirectory |
  • PPT Submission: Slideshare, Box.com, Issuu.com, Mediafire |
  • PDF Submission: Scribd.Com, Box.com, Pinpdf.com |
  • Image Submission: Myspace, Pinterest, Instagram, 4shared |

Black Hat SEO Kya Hai

 

Black Hat SEO का इस्तेमाल जल्दी वेबसाईट को रैंक मे लाने के लिए करते है | इस Technique में किसी भी Rule और Regulation को फॉलो नहीं किया जाता है | यह हमे जल्दी रिजल्ट तो देता है, पर बहूत जल्दी हमारे वेबसाईट को नीचे रैंक मे ला देता है |

Black Hat SEO करने के लिए इस Technique का इस्तेमाल किया जाता है, जैसे Keyword Stuffing, Spam Comment, Duplicate Content, Article Spinning, Invisible Text And Link, Link Exchange, Over Optimizing Alt Tag इत्यादि |

इसे भी पढ़ें :- Digital Marketing Kya Hai

White Hat SEO Kya Hai

जैसा कि हम जानते हैं कि एक SEO Long Term प्रक्रिया है। इसलिए हमें धैर्य रखना होगा, अगर हम इस Online Business में खुद को स्थापित करना चाहते हैं, तो हमे अपने वेबसाईट का White Hat SEO करना होगा । इस Technique मे हमे Google के सारे Guideline को फॉलो करना पड़ता है | इसलिए हमारे वेबसाईट या ब्लॉग के मार्केटिंग के लिए यह सबसे अच्छा होता है |

Conclusion:

मुझे आशा है कि आप इस ब्लॉग के माध्यम से SEO सीखने में मदद जरूर मिले होंगे | मेरा आपसे सलाह है की आप शॉर्ट कट तरीकों को न अपनाए, धैर्य रखें और SEO शुरू करें | यह एक कठिन प्रक्रिया नहीं है इसे हम कंप्यूटर जैसे उपकरणों की मदद से खुद से सीख सकते हैं | उचित कीवर्ड खोजें और अपना ब्लॉग सेट करें |

अपने ब्लॉग को अनुकूलित करने के लिए White Hat SEO को इस्तेमाल करें |अपने ब्लॉग में Duplicate और कॉपी की गई पोस्ट न लिखें | SEO समय लेता है, लेकिन यह आपको बेहतर परिणाम देता है |

यदि आपको यह ब्लॉग अच्छा लगा हो तो हमे Comment कर के जरूर बताए |

धन्यवाद !

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here